Thursday, 15 January 2015

यह करोड़ों की बातें करोड़ों को समझ नहीं आतीं,
कैसी भूख है ..कि करोड़ों से भी नहीं जाती....!!!
-शालिनी

No comments:

Post a Comment