Thursday, 15 January 2015

कुछ बँटी बँटी सी है ज़िंदगी 
एक तेरे कहने से पहले 
एक तुझे सुनने के बाद ...!!
-शालिनी

No comments:

Post a Comment