Friday, 11 March 2016

वक्त से परे
न दिन है
न रैन है ...!!
शब्दों से परे ..
बस मौन है..!
व्यथा से परे..
सिर्फ मौत है..!!!
--शालिनी
4.3.2016

No comments:

Post a Comment