Wednesday, 24 August 2016

लफ्ज़ किस कदर  सर्द और गुम हुए जाते हैं..

अपनों को गैरों से कभी न मिलाये कोई ...!!!
sks💝

No comments:

Post a Comment